‘पाकीजा’ की एक्ट्रेस गीता कपूर का मुंबई के ओल्डऐज होम में निधन –

 

मुंबई: फिल्म ‘पाकीजा’ की एक्ट्रेस गीता कपूर का मुंबई के ओल्डएज होम में निधन हो गया। गीता कपूर 58 साल की थीं।
 
जिंदगी का आखिरी पड़ाव रहा दर्द भरा –
 
गीता कपूर ने कभी खाब में भी नहीं सोचा था कि उनकी जिंदगी के आखिरी लम्हें किसी फ़िल्मी स्टोरी जैसे दर्द भरे होंगे और ओल्डऐज होम में जान से भी प्यारे अपने बेटी और बेटे का इंतज़ार करते करते उनकी आंखें बंद हो जाएंगी। 
 
अपनी एक्टिंग से लाखों लोगों को दीवाना बना लिया था –
 
फिल्म ‘पाकीजा’ में शोमैन राजकुमार की दूसरी पत्नी के दमदार रोल निभाने के बाद गीता कपूर ने न सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में अपनी जगह बना ली थी बल्कि हिंदुस्तान और हिंदुस्तान की सरहदों से बाहर अपने लाखों फैंस के दिलों में भी एक अलग जगह बना ली थी।
अपने बेटे-बेटी को जहान की खुशियां दी –
 
अपने बेटे और बेटी को गीता कपूर ने वो सभी खुशियां और सहूलियत दी जो हर किसी के नसीब में नहीं लिखी होती।गीता ने अपने जिगर के टुकड़ों को उच्च शिक्षा दी,समाज में एक रुतबा दिया, बड़ा आदमी बनाया लेकिन अपने लाड-प्यार में वो अपने बच्चों को इंसान बनाना भूल गयी,उन्हें इंसानियत सिखाना भूल गयी।
 
बुढ़ापे में नर्क बनती चली गयी जिंदगी –
 
ज़िंदगी के आखिरी पड़ाव में जब इंसान सुकून की जिंदगी चाहता है,अपना सारा समय अपने पोते-पोतियों के साथ अठखेलियां करने और भगवान की इबादत में लगाना चाहता है उस उम्र में गीता कपूर को नर्क जैसी ज़िंदगी नसीब हुई।
 
 यह भी है जरूरी खबर :-यह सांसद हैं, टपोरी नहीं !
मां को लावारिस छोड़ गए जिगर के टुकड़े –
 
जब गीता कपूर बीमार और बूढी हुईं तो उनके जिगर के टुकड़े उन्हें बोझ समझने लगे। इलाज के लिए उन्हें मुंबई के एक हॉस्पिटल में एडमिट तो करवाया लेकिन वहां उन्हें लावारिस छोड़कर कर भाग गए और फिर कभी लौट कर नहीं आए, यहां तक की उनकी मौत की खबर के बाद भी नहीं।
 
बेटे-बेटी की राह तकते निकले दम –
 
ओल्डऐज होम में उनकी खिदमत करने वाले बताते हैं कि गीता कपूर की सांसे छोड़ने से पहले सिर्फ और सिर्फ एक ही तमन्ना थी, वो थी अपने बेटे और बेटी के लौट आने की और उन्हें वापिस अपने घर ले जाने की लेकिन लाखों फैंस के दिलों में राज करने वाली अपने जिगर के टुकड़ों के दिलों में जगह नहीं बना पायी। गीता कपूर की आखिरी तमन्ना उनके साथ ही चली गयी।    

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here