मुंबई

बहुचर्चित सोहराबुद्दीन शेख फर्जी एनकाउंटर केस में कुछ सीनियर पुलिस ऑफिसर को आरोप मुक्त किए जाने के फैसले के खिलाफ दायर पुनर्विचार याचिकाओं पर मुंबई हाईकोर्ट जून में फिर से सुनवाई शुरू करेगा।

दरअसल, हाईकोर्ट सोहराबुद्दीन के भाई रुबाबुद्दीन शेख द्वारा दायर याचिका पर ये सुनवाई करेगा। आपको बता दें कि कोर्ट ने इस केस में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और कुछ सीनियर पुलिस ऑफिसर समेत कुल 14 लोगों को बरी कर दिया था। जिन अफसरों को बरी किया गया, उनमें रिटायर्ड आइपीएस ऑफिसर डीजी वंजारा, दिनेश एमएन और राजकुमार पांडियन शामिल हैं।

पढ़े – सीबीआई के दो और गवाह बयान से पलटे !

गौरतलब है कि रुबाबुद्दीन की ओर से दायर तीन याचिकाओं और सीबीआई की दो याचिकाओं पर कोर्ट द्वारा आंशिक रूप से सनवाई हुई थी। इस बीच फरवरी में हाईकोर्ट के कुछ जस्टिस के आबंटित काम-काज अचानक बदल दिए गए। जिसके चलते बेंच ने पांच में से तीन याचिकाओं पर अपनी सुनवाई लगभग पूरी कर ली थी। वहीं, दो पुनर्विचार याचिकाओं पर कार्यवाही अभी बाकी है।

आपको बता दें कि इससे पहले एनकाउंटर केस मामले में सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष के दो और गवाह बीते शुक्रवार (20 अप्रैल) को अपने बयान से पलट गए है। कोर्ट इस मामले में अब तक 76 गवाहों का परीक्षण कर चुकी है। कोर्ट में दो और गवाहों के अपने ब्यान से मुकरने के बाद मामले में सीबीआई का समर्थन नहीं करने वाले गवाहों की संख्या बढ़कर 52 हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here