बेटे की चाहत में क्या कुछ नहीं किया –

बेटा के लिए इस मां ने ऊपरवाले से लाख मन्नतें मांगी थी, बेटे की ख़्वाइश में शहर का शायद ही कोई ऐसा पूजाघर हो जिसकी चौखट पर सजदे न किए हों। ऊपरवाले ने इसकी मुराद भी पूरी कर दी। हॉस्पिटल में सुंदर बेटे को जन्म दिया था लेकिन इस मां के भाग में शायद बेटे का सुख नहीं था। बेटे को जन्म देने के बाद इसकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं था लेकिन बेटा पैदा होने के तीन दिन बाद इस मां ने हॉस्पिटल स्टाफ की नज़र बचाकर अपने जिगर के टुकड़े को ही चबा डाला।

 
नौवें महीने में ससुरालवालों ने घर से निकाल दिया –
 
रूह कंपा देने वाली यह घटना चीन के शेनजेन प्रांत की है। 24 साल की ली जेंगहुआ ने जब प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में कदम रखा तब उसके ससुराल वालों ने उसे बदचलन करार देकर घर से बाहर फेंक दिया। कुछ घंटे घर की दहलीज पर काटने के बाद वो मदद के लिए सड़क के किनारे आ गयी और सड़क के किनारे पहुंचते ही उसे लेबर पेन शुरू हो गया। राहगीर उसे देखते और निकल जाते। किसी ने भी उसका दर्द नहीं समझा और नतीजा यह हुआ कि उसका लेबर पेन बढ़ता चला गया।
 
एक भले मानुष ने पहुंचाया हॉस्पिटल –
 
पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने जब ली जेंगहुआ की हालत देखी तो उसका दिल पसीज गया और उसने टैक्सी से उसे हॉस्पिटल तक पहुंचा दिया। हॉस्पिटल के गेट पर छोड़कर टैक्सी ड्राइवर और पड़ोसन नज़र चुरा कर निकल गए। हॉस्पिटल स्टाफ ने जब उसे देखा और तुरंत उसका इलाज शुरू कर दिया। कुछ घंटे चले ऑपरेशन के बाद ली जेंगहुआ ने सुंदर बेटे को जन्म दिया। 
 
दिया सुंदर बेटे को जन्म –
 
चूंकि ली जेंगहुआ की कंडीशन ठीक नहीं थी इसी लिए उसे आईसीयू में ही रहने दिया गया। हॉस्पिटल ने पुलिस को भी इन्फॉर्म कर दिया था।हॉस्पिटल और पुलिस ली जेंगहुआ से उसका एड्रेस जानना चाहा रही थी ताकि उसके घरवालों को बेटा होने की खुशखबरी दी जा सके लेकिन डिलीवरी के बाद ली जेंगहुआ का मानसिक संतुलन बिगड़ गया था।  
 
…और नर्स की सांसे अटक गयी –
 
कभी अपने लाडले को गले लगाती तो कभी फूटफूट कर रोने लगती। हॉस्पिटल स्टाफ उसे संभालता ,उसे दिलासा देता और वो अपने होशोहवाश में आ जाती लेकिन डिलीवरी के तीसरे दिन वो हुआ उसकी कल्पना किसी ने भी नहीं की थी। हॉस्पिटल की नर्स जब ली जेंगहुआ को इंजेक्शन देने पहुंची तो उसकी सांसें हलक में अटक गयी।
 
चबा गयी अपने जिगर के टुकड़े को ही –
 
जिस बेटे को ली-जेंगहुआ ने नौ महीने अपने पेट में पाला,जिसके लिए पागलों की तरह जगह-जगह मन्नत मांगी उसी बेटे को वो पागलों की तरह चबा गयी थी। नर्स ने होश संभाला और दूसरे स्टाफ को इन्फॉर्म किया। जिसने भी ली-जेंगहुआ को देखा उसकी रूह कांप गयी। खबर मिलते ही पुलिस भी मौका-ए-वारदात पर पहुँच गयी औरपुलिस ने ली-जेंगहुआ को हिरासत में ले लिया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here