गरीब के साथ की बीजेपी नेता ने हाथापाई –
 
मुंबई: बीजेपी के सांसद और तेजतर्रार नेता किरीट सोमैया की जब सटक जाती है फिर वो किसी को भी छोड़ते। ऐसे में अगर गरीब उनसे उलझ गया तो समझो उसकी जिंदगी नर्क हो गयी।
 
मुंबई के मुलुंड एरिया का वाक्या –
 
मामला मुलुंड के संभाजी मैदान का है। करीब 8 बजे किरीट सौमैया मैदान पर पहुंचे। किरीट सौमैया काफी खुश थे,वैसे वे हमेशा खुश ही रहते हैं लेकिन मैदान के एक किनारे पर सब्जी बेचने वाले पर अचानक उनकी नज़र पड़ गयी और उनको गुस्सा आ गया।
 
देखें वीडियो :-BJP लीडर की गुंडागर्दी
स्वच्छ भारत अभियान का कीड़ा जाग गया –
 
नेता जी के दिमाग में अपने ‘बॉस’ का छोड़ा हुआ स्वच्छ भारत अभियान का कीड़ा एकाएक नींद से जग गया। किरीट सौमैया तुरंत सब्जी वाले के पास पहुंचे और खरी-खोटी सुना कर उसे तुरंत वहां से अपनी दुकान समेटने का फरमान सुना दिया।
 
सब्जी वाला भी नेताजी से उलझ गया –
 
सब्जी बेचने वाला सचिन खरात किरीट सौमैया को पहचान नहीं पाया और उनसे उलझ गया।एक छोटे से,मामूली से सब्जी बेचने वाले की ललकार से किरीट सौमैया की सटक गयी। नेता जी ने सब्जी वाले के हाथ से रुपए छीन लिए और फाड़ कर उसके मुंह पर दे मारे।  
 
पुलिस भी पहुंची अपने सांसद की ड्यूटी बजाने –
 
किरीट सौमैया का गुस्सा अभी भी शांत नहीं हुआ, उन्होंने तुरंत पुलिस स्टेशन में कॉल किया और पुलिस की फ़ौज बुला ली। कभी भी समय पर नहीं पहुंचने वाली पुलिस पलक झपकते पहुंच गयी।सांसद के आदेश पर पुलिस ने सब्जी वाले पर झटपट फाइन ठोक दिया और उसे मैदान के आस-पास नहीं फटकने के हुक्म सुना कर भगा दिया। 
 
सब्जी वाले ने नेताजी की गुंडागर्दी की कहानी रिकॉर्ड कर ली –
 
सब्जी बेचने वाला भी सोशल मीडिया सेवी था उसे पता था कि उसके मोबाइल और मोबाइल में व्हाट्सअप की ताकत क्या होती है। उसने अपना वीडियो बनाया और नेता जी की गुंडागर्दी की पूरी कहानी रिकॉर्ड कर ली और पोस्ट भी कर दी।
 
स्थानीय लोगों ने कहा किरीट भाई ने सही किया –
 
यहां बीजेपी के तेज तर्रार नेता की गुंडागर्दी की कहानी वायरल हुई वहां लोगों ने किरीट सौमैया को निशाने पर ले लिया। अपोजिशन ने भी बीजेपी के सांसद पर आरोपों की झड़ी लगा दी,लेकिन मुलुंड के रहने वाले लोग अपने सांसद के साथ खड़े दिखाई दिए। लोगों का मानना है कि किरीट सौमैया ने जो किया वो सही किया,सब्जी वाले को हॉकर्स जोन में ही बैठना चाहिए था मैदान के आसपास नहीं।   

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here