[सुमन कौशिक ]

फिर स्ट्राइक पर रेजिडेंट डॉक्टर –

 
मुंबई: मुंबई के जे.जे.हॉस्पिटल के रेजिडेंट डॉक्टर्स अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गए हैं। रेजिडेंट डॉक्टर्स की एसोसिएशन ‘मार्ड’ और चिकित्सा शिक्षा निदेशालय के संयुक्त निदेशक प्रकाश वाकोड़े के बीच हुई बैठक बे-नतीजा साबित हुई और ‘मार्ड’ ने काम बंद कर दिया।
 
मरीज के परिजनों ने कर दी थी डॉक्टर की पिटाई –
 
‘मार्ड’ अपनी एसोसिएशन से जुड़े रेजिडेंट डॉक्टर के साथ हुई मारपीट से खफा है। दरअसल जे.जे.हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में एक पेशेंट की मौत के बाद मृतक के परिजनों का गुस्सा ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर पर फूटा। मृतक के रिलेटिव्स ने डॉक्टर को बेरहमी से पीटा और उसे अधमरा कर दिया।
 
गुस्से में है रेजिडेंट डॉक्टरों की एसोसिएशन ‘मार्ड’ –
 
मुंबई की जे.जे. मार्ग पुलिस ने डॉक्टर के साथ मारपिटाई करने वालों के खिलाफ केस रजिस्टर कर लिया है और डॉक्टर के साथ मार-पिटाई करने वाले चार लोगों को अरेस्ट भी कर लिया है, लेकिन ‘मार्ड’ डॉक्टर के साथ हुई हाथापाई और मार-पिटाई से बेहद गुस्से में हैं।
हड़ताल से इमरजेंसी सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी –
 
‘मार्ड’ के स्पोक्सपर्सन अमोल हेकरे ने जिया न्यूज़ मुंबई से बात करते हुए दावा कि हड़ताल से इमरजेंसी सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी और हड़ताल के बावजूद ओपीडी शुरू रहेगी। अमोल हेकरे ने कहा,”हम चाहते हैं कि हर वार्ड में सिक्योरिटी इम्मेडिएटली बढ़ा दी जाए।”
 
पहले भी कई बार ‘मार्ड’ कर चुकी है हड़ताल –
 
बता दें कि रेजिडेंट डॉक्टरों के साथ बढ़ती मार-पिटाई की वारदातों के बाद ‘मार्ड’ अनिश्चित कालीन हड़ताल पर पहले भी चला गया था और खुलकर सरकार को चुनौती तक दे डाली थी। हॉस्पिटल में बढ़ती पेशेंट्स की कतारें और तेजी से बिगड़ते हालात पर मुंबई हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया था और ‘मार्ड’ से जुड़े डॉक्टरों को फटकार लगाते हुए तुरंत हड़ताल ख़त्म कर काम पर लौटने के आदेश जारी किए थे।
 
कोर्ट की फटकार के बाद काम पर लौटे थे डॉक्टर – 
 
कोर्ट की फटकार के बाद डॉक्टरों ने हड़ताल खत्म कर दी थी लेकिन अपनी सुरक्षा की दुहाई कोर्ट में दी थी। कोर्ट ने महाराष्ट्र गवर्नमेंट को डॉक्टरों की सुरक्षा पुख्ता करने के आदेश दिए थे। कोर्ट के आदेश के बाद सरकार ने मुंबई के सभी सरकारी हॉस्पिटल्स में स्पेशल कमांडो की कई टीमें तैनात भी कर दी थी।    

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here