कुख्यात ‘ठक-ठक’ गैंग ने लूट लिया मनसे नेता को –
 

मुंबई: अवैध हॉकर्स मसले पर उत्तर भारतीयों से पिटने के बाद मनसे के नेता चोरों से भी चित हो गए। मुंबई महानगरपाल‍िका में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के इकलौते कॉर्पोरेटर संजय तुर्डे को मुंबई की सड़क पर बीच बाजार चोरों ने लूट लिया।

मनसे लीडर संजय तुर्डे हुए कुख्यात ‘ठक-ठक’ गैंग के शिकार –
 
मिली इनफार्मेशन के मुताबिक मंडे को करीब 8.30 बजे संजय तुर्डे कुर्ला के एलबीएस मार्ग से गुजर रहे थे तभी मुंबई की सड़कों के कुख्यात ‘ठक-ठक’ गैंग के निशाने पर आ गए। राजनीति के अखाड़े में अपने दुश्मनों की पल-पल की चाल को समझने वाले संजय तुर्डे चोरों की चाल को नहीं समझ पाए। 
 
मनसे के झंडे से भी नहीं डरे चोर –
 
वैसे संजय तुर्डे की कार पर लगे मनसे के झंडे को देखकर ‘ठक-ठक’ गैंग के नंबरकारी एक बार तो जरूर डर गए होंगे कि वे महाराष्ट्र की ‘गुंडा’ पार्टी के किसी नेता को टारगेट करने जा रहे हैं, लेकिन जब उन्हें याद आया होगा कि किस तरह उत्तर भारतीय हॉकर्स ने मनसे के पॉलिटिकल गुंडों की ठुकाई और धुनाई की थी तब शायद उन्होंने हिम्मत जुटाकर ‘गुंडा’ पार्टी के नेता को लूट लिया।  
 
संजय तुर्डे की कार से उड़ा लिया कीमती मोबाइल –
 
‘ठक ठक’ के एक प्यादे ने संजय तुर्डे की कार के दरवाजे पर दस्तक दी और उनका ध्यान अपनी ओर खींच लिया और उन्हें अपनी बातों में उलझा लिया जबकि गैंग के दूसरे प्यादे ने कार के हाथ डालकर कार में रखा कीमती मोबाइल उड़ा लिया। संजय तुर्डे चोरों के इरादों को भांप नहीं पाए। खुद के लुटने-पिटने का पता संजय तुर्डे को तब चला जब फ़ोन में किसी प्रकार की हलचल नहीं हुई। 
pc:fb
पुलिस ने कहा,जल्द दबोच लिए जाएंगे नेता को लूटने वाले –
 
संजय तुर्डे ने तुरंत कार को नजदीकी पुलिस स्टेशन की ओर दौड़ा दी और पुलिस ऑफिसर्स को अपने लुटने-पिटने की कहानी सुनाई। पुलिस को समझते देर नहीं लगी कि नेता जी को ‘ठक-ठक’ गैंग ने लूट लिया है। पुलिस ने केस रजिस्टर कर लिया है और हमेशा की तरह खम ठोक कर दावे कर रही है कि मनसे लीडर को लूटने वाले ‘ठक-ठक’ गैंग के बदमाश जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे। 
 
संजय तुर्डे ने नहीं पकड़ा था शिव सेना का ‘लॉलीपॉप’ –
 
बता दें कि संजय तुर्डे मनसे के वही वफादार कॉर्पोरेटर हैं जिन्होंने शिवसेना के ‘पैकेज’ को ठुकरा दिया था और मनसे चीफ राज ठाकरे के साथ वफ़ादारी निभाते हुए पार्टी के कार्यकर्ताओं के सामने ‘आइडल’ बनकर उभरे थे, जबकि उनके साथ मनसे के टिकट पर चुनकर आए कॉर्पोरटर्स ने शिवसेना का ‘लॉलीपॉप’ थाम लिया था। 
 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here