लखनऊ

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के दुदुई रेलवे स्टेशन के नजदीक मानव रहित क्रॉसिंग पर गुरुवार सुबह हुए स्कूल वैन और पैसेंजर ट्रेन (55075) की टक्कर में 13 घरों के चिराग बुझ गए, जबकि इस हादसे में कई बच्चे घायल है। इस हादसे की वजह ड्राइवर की बड़ी लापरवाही बताई जा रही है, जिसकी हादसे में मौत हो गई है।

बताया जा रहा है कि वैन ड्राइवर ने वैन चलाते समय कान में ईयरफोन लगा रखा था। जिसके चलते उसने ट्रेन का हॉर्न नहीं सुना और मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग पर वैन को निकालने लगा।

हादसे में सभी घायल बच्चों को गोरखपुर के मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर किया गया है। जिनमें से 4 बच्चों की हालत गंभीर बताई जा रही है। कुशीनगर के डिवाइन मिशन स्‍कूल की इस (टाटा मैजिक) वैन में 10 साल की उम्र तक के करीब कुल 25 बच्चें सवार थे, जो अपने स्कूल जा रहे थे। इस हादसे के बाद बच्चों के परिवार में मातम पसर गया है।

इस पूरे मामले में वैन के ड्राइवर की लापरवाही तो सामने आ ही रही है, लेकिन रेलवे की लापरवाही भी को भी अनदेखा नहीं किया जा सकता है। क्योंकि हादसे के वक्त क्रासिंग पर कोई गैंगमैंन तैनात नहीं था। टक्कर इतनी जर्बदस्त थी कि वीन के परखच्चें उड़ गए और13 बच्चों की मौके पर ही मौत हो गयी। यह ट्रेन सिवान से गोरखपुर आ रही थी।

पढ़े – फडणवीस ने किया विश्वासघात : शिवसेना

सीएम योगी ने दुख जताया

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने इस हादसे पर दुख व्‍यक्‍त करते हुए ट्वीट किया, कुशीनगर जिले में हुए दुर्भाग्यपूर्ण ट्रेन दुर्घटना में स्कूली बच्चों की मृत्यु पर गहरा दुःख पंहुचा। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिजनों को संबल देने की प्रार्थना करता हूँ। दुर्घटना से प्रभावित लोगों के समुचित इलाज की व्यवस्था कराने व हर सम्भव मदद करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने मृतकों और घायल बच्‍चों के परिजनों 2-2 लाख रुपए की आर्थ‍िक मदद की घोषणा के साथ गोरखपुर के कमिश्‍नर को हसदे के जांच के आदेश भी दिए हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कुशीनगर रेल हादसे पर दुख जताते हुए कहा है कि दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

कुशीनगर हादसे में मासूमों की दुखद मौत पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने भी घटना पर गहरा दुख जताया है। साथ ही उन्होंने हादसे में मारने वाले और घायल हुए बच्चों को हर मदद मुहैया कराने की अपील भी की है। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here