मुंबई

महाराष्ट्र के रत्नागिरी में दुनिया का सबसे बड़े पेट्रोकेमिकल रिफायनरी प्रोजेक्ट बनने से पहले ही विवादों के घेरे में आ गया है। हाल में सरकार की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने जहां इस पेट्रोकेमिकल रिफायनरी के करार का विरोध करते हुए राज्य के सीएम देवेंद्र फडणवीस पर विश्वासघात करने का आरोप लगाया था। वहीं, अब मनसे चीफ राज ठाकरे ने भी नाणर रिफाइनरी प्रोजेक्ट पर अपनी आपत्ति जताते हुए इसका कड़ा विरोध किया है।

इतना ही नहीं राज ठाकरे के विरोध के ठीक एक दिन बाद एमएनएस कार्यकर्ताओं ने तो मुंबई स्थित नाणर रिफाइनरी प्रोजेक्ट के ऑफिस में तोड़फोड़ भी कर डाला। जिसका वीडियो सामने आया है। हालाकिं, पुलिस ने इस मामले में उत्पात मचा रहे 5 मनसे कार्यकर्ताओं को हिरासत में भी ले लिया है।

पढ़े – फडणवीस ने किया विश्वासघात : शिवसेना

आपको बता दें कि मुलुंड में रविवार को एक रैली को संबोधित करते हुए राज ठाकरे ने कहा था कि वे रत्नागिरी के नाणर ऑयल रिफाइनरी प्रोजेक्ट को शुरू नहीं होने देंगे। उनका कहना था कि इससे पर्यावरण को नुकसान होगा और आसपास के लोगों का जीवन दूभर होगा। इस दौरान ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं से इस प्रोजेक्ट का पुरजोर विरोध करने को भी कहा था। जिसके बाद मनसे के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को साऊथ मुंबई स्थित नाणर प्रोजेक्ट के ऑफिस में तोडफ़ोड़ कर इसका विरोध किया।

इससे पहल शिवसेना भी साफ़ कर चुकी है कि वे किसी भी हालत में नाणर पेट्रोकेमिकल रिफाइनरी का काम शुरू नहीं होने देगी। आपको बता दें कि पिछले हफ्ते केंद्र सरकार ने सऊदी की सरकार से इस रिफायनरी के लिए करार किया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here