लखनऊ

उन्नाव गैंगरेप मामले आखिरकार यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का फैसला किया। साथ ही गैंगरेप मामले के मुख्य आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के ख़िलाफ़ बढ़ते दबाव के बाद एफआईआर दर्ज कर ली गई है, जल्द ही विधायक की गिरफ्तारी हो सकती है। इस बीच गैंगरेप मामले आरोपी चौतरफा घिरी योगी सरकार के एक और विधायक ने अपने एक से बवाल मचा दिया है।

विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के बचाव में बोलते हुए इस बीजेपी विधायक ने भाषा की मर्यादा को नांगते हुए सारी सीमा पार कर दी। जी हां, बरेली के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने न सिर्फ पूरे मामले में अपनी राय रखी बल्कि बेतुका बयान देकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया है।

दरअसल, बुधवार को विधायक सुरेंद्र सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि आखिर 3 बच्चों की मां के साथ कोई रेप करता है क्या? विधायक सुरेंद्र सिंह इन्ही नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ साजिश रची गई है। साथ ही उन्होंने आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के नार्को टेस्ट कराने की बात कही।

पढ़े – बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर FIR दर्ज, CBI करेगी जांच !

हालाकिं, अपने इस बयान की किरकरी होता देख गुरुवार को विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपने बयान से पलटी मारते हुए कहा, ‘उन्हें पीड़िता की उम्र की गलत जानकारी दी गई थी कि वो महिला है और तीन बच्चों की मां है लेकिन ऐसा नहीं है। उन्होंने आगे कहा, ‘विधायक कुलदीप सिंह सेंगर तीन बच्चों के पिता है। सेंगर के साथ जो भी हो रहा है गलत हो रहा है। इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

आपको बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उन्नाव रेपकांड और पीड़िता के पिता की पिटाई से मौत को गंभीरता से लेते हुए प्रकरणका स्वत: संज्ञान लिया है। इस मामले में आज (12 अप्रैल) सुनवाई का फैसला किया है।

क्या है मामला

गौरतलब है कि पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ 4 जून 2017 को बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर और उनके साथियों ने गैंगरेप किया था। पीड़िता के विरोध करने पर विधायक ने उसके परिवार वालों को मारने की धमकी दी। बता दें कि उन्नाव गैंगरेप और उसके बाद पीड़िता के पिता की पुलिस कस्टडी में मौत पर विवादों में घिरी उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अब मामले की कार्रवाई तेज़ कर दी है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here